गुड्डू मुस्लिम गोली नहीं बम मारकर करता है हत्या, संजय सिंह से लेकर मुख्तार अंसारी तक के लिए कर चुका है काम

प्रयागराज। प्रयागराज के उमेश पाल हत्याकांड में बुलडोजर एक्शन का आज तीसरा दिन है. अब अतीक अहमद के इस खास गुर्गे के घर को बुलडोजर से तोड़ दिया गया है. हत्याकांड से जुड़े एक सीसीटीवी फुटेज में गुड्डू मुस्लिम बम फेंकते कैद हुआ था. अतीक से पहले उत्तर प्रदेश के दूसरे माफिया गुडों के साथ रह चुके गुड्डू की खासियत है कि वह गोली नहीं, बम मारकर ही हत्या की वारदातों को अंजाम देता है।

उत्तर प्रदेश के माफिया डॉन धनंजय सिंह, अभय सिंह से लेकर मुख्तार अंसारी तक के लिए गुड्डू मुस्लिम ने काम किया है. बीते 10 साल से वह अतीक अहमद की गैंग में शामिल है. प्रयागराज में अतीक अहमद के लिए रेलवे के स्क्रैप और प्रॉपर्टी डीलिंग का काम कुख्यात गुड्डू मुस्लिम ही संभालता रहा था।

बता दें कि गुड्डू मुस्लिम का राजधानी लखनऊ में भी कनेक्शन रहा है. लखनऊ के चर्चित पीटर गोम्स हत्याकांड में भी उसका नाम आया था. पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ की थी. दरअसल, लखनऊ के ला मार्टिनियर कॉलेज में बॉयज हॉस्टल के वॉर्डन और स्पोर्ट्स टीचर पीटर गोम्स की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी. इस मामले में गुड्डू मुस्लिम का नाम सामने आया था. यही नहीं, लखनऊ के ही नाका इलाके में बम मारकर हुई एक हत्या में भी गुड्डू मुस्लिम को जेल भेजा गया था।

गौरतलब है कि प्रयागराज के बहुचर्चित राजू पाल हत्याकांड के मुख्य गवाह उमेश पाल और उनके दो सुरक्षाकर्मियों संदीप निषाद और राघवेंद्र की बीते सप्ताह गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इस मामले में उमेश पाल की पत्नी जया पाल ने धूमनगंज थाने में पूर्व सांसद अतीक अहमद, उसके भाई अशरफ, पत्नी शाइस्ता परवीन, 2 बेटों, अतीक के साथी गुड्डू मुस्लिम और गुलाम मोहम्मद समेत 9 अन्य साथियों के खिलाफ केस दर्ज कराया था।

इस घटना के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा में कहा था कि उनकी सरकार माफियाओं को मिट्टी में मिला देगी. इसके बाद सोमवार को पुलिस के साथ एनकाउंटर में उमेश पाल हत्याकांड का एक आरोपी अरबाज मारा गया. पुलिस को हत्याकांड में शामिल दूसरे आरोपियों की तलाश है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *