नेहरू युवा केंद्र द्वारा राष्ट्रीय युवा सप्ताह का किया गया समापन

मेरठ। नेहरू युवा केंद्र द्वारा पंडित दीन दयाल उपाध्याय मैनेजमेंट कॉलेज के सभागार में राष्ट्रीय युवा सप्ताह का समापन चेतना दिवस के रूप में मनाया गया जिसके अंतर्गत जागरूकता संगोष्ठी एवं पुरुस्कार वितरण किया गया जिसमें मुख्य अतिथि सनातन धर्म सरस्वती शिशु मंदिर इंटर कॉलेज, कंकरखेड़ा के प्रधानाचार्य महेश सिंह और विशिष्ट अतिथि उत्तर प्रदेश पर्याटन विभाग के पूर्व प्रशासनिक अधिकारी शील वर्द्धन रहे।

कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों, जिला युवा अधिकारी बिधु भूषण मिश्र, जिला परियोजना अधिकारी (नमामि गंगे) तुषार गुप्ता और लेखा एवं कार्यक्रम सहायक नरेंद्र त्यागी ने संत स्वामी विवेकानंद के चित्र के समक्ष पुष्प अर्पित कर किया। जिला सलाहकार समिति युवा कार्यक्रम के सदस्य प्रिंस अग्रवाल ने संचालन करते हुए जनपद के 12 ब्लॉकों में राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवकों द्वारा आयोजित विभिन्न कार्यक्रमों के बारे में जानकारी दी। लेखा एवं कार्यक्रम सहायक नरेंद्र त्यागी ने बताया कि हर वर्ष राष्ट्रीय युवा सप्ताह बड़ी धूमधाम से पूरे भारत में स्थापित 623 नेहरू युवा केंद्र कार्यालयों द्वारा मनाया जाता है।

जिसमें भाषण प्रतियोगिता, निबंध प्रतियोगिता, चित्रकला प्रतियोगिता, सांस्कृतिक कार्यक्रम जैसे विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन प्रतियोगिता के रूप में ब्लॉक स्तर पर होता है और उत्कृष्ट स्थान पाने वाले युवाओं को जिला स्तर पर सम्मानित किया जाता है। जिला परियोजना अधिकारी (नमामि गंगे) तुषार गुप्ता ने युवाओं को संत स्वामी विवेकानंद के पदचिन्हों पर चलने के लिए प्रेरित किया। विशिष्ट अतिथि शील वर्द्धन ने युवाओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि युवाओं की देश के विकास में अहम भूमिका होती है। युवाओं में किसी कार्य को करने का सामर्थ्य और उर्जा होती है इसलिए युवाओं को राष्ट्र निर्माण में अपनी शक्ति को समझना चाहिए।

मुख्य अतिथि महेश सिंह ने संत स्वामी विवेकानंद के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि स्वामी विवेकानंद एक आध्यात्मिक गुरु थे। उनका सम्पूर्ण जीवन भारतीय संस्कृति व आध्यात्मिकता के लिए समर्पित था और उन्होंने ही भारत की आध्यात्मिकता की अलख सम्पूर्ण विश्व में फैलाई। आज विश्व में भारत को आध्यात्मिक गुरु के रूप में देखा जाता है। अंत में अतिथियों और नेहरू युवा केंद्र के पदाधिकारियों द्वारा ब्लॉक स्तर पर विभिन्न प्रतियोगिताओं में स्थान प्राप्त करने वाले युवाओं को मेडल, टी-शर्ट और प्रमाण-पत्र देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का समापन जिला युवा अधिकारी द्वारा अतिथियों को प्रतीक-चिन्ह और उपस्थित सभी का धन्यवाद ज्ञापित कर किया गया।

इस अवसर पर सहायक प्रशासनिक अधिकारी शेखर चंद्र खुलवे, पूर्व राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवक संदीप कुमार, राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवक मो. शोऐब, दीपशिखा, रसीला, सीमा, आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *